Venkaiah Naidu Biography in Hindi | वेंकैया नायडू की जीवनी

You are currently viewing Venkaiah Naidu Biography in Hindi | वेंकैया नायडू की जीवनी

वेंकैया नायडू कौन है? ((Who is Venkaiah Naidu)

मुप्पवरपु वेंकैया नायडू जिन्हे वेंकैया नायडू के नाम से जाना जाता है है। यह एक भारतीय राजनेता है, जो वर्तमान में भारत के 13वे उपराष्ट्रपति हैं। इनका जन्म 1 जुलाई 1949 को भारत की आजादी के बाद हुआ था। यह भारतीय जनता पार्टी के सदस्य हैं, जो साल 2002 से 2004 तक भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष रह चुके हैं। वेंकैया नायडू को साल 1998 में पहली बार कर्नाटक के राज्यसभा के लिए चुना गया। इसके अलावा वह भारतीय जनता पार्टी के समय यूथ विंग के प्रेसिडेंट भी रहे।

वेंकैया नायडू का जीवन परिचय (Venkaiah Naidu biography in hindi )

name/नामवेंकैया नायडू
DOB/जन्म तिथि1 जुलाई 1949
birthplace/जन्मस्थानआंध्र प्रदेश, नेल्लोर जिला
age/उम्र73 वर्ष (2022)
profession/पेशाराजनीतिज्ञ
family/परिवारपिता का – रंगैया नायडू
मां – रामानम्मा
पत्नी – उषा
net-worth/कुल मूल्यलगभग 9 करोड़ से 11 करोड़ रुपए
famous/प्रसिद्धभारतीय उपराष्ट्रपति
party/पार्टीभारतीय जनता पार्टी (BJP)
religion/धर्महिंदू
caste/जातिकम्मा
nationality/राष्ट्रीयताभारतीय
Venkaiah Naidu details in hindi

Venkaiah Naidu Biography in Hindi

भाजपा के सबसे बड़े नेताओं में से एक वेंकैया नायडू का जन्म 1 जुलाई 1949 को आंध्र प्रदेश के नेल्लोर जिला में स्थित चावटपलेम में हुआ था। परिवार की मां का नाम रामानम्मा तथा पिता का नाम रंगैया नायडू है। उन्होंने अपनी शुरुआत की शिक्षा नेल्लोर के वी.आर.हाई स्कूल से प्राप्त की, तथा वी.आर कॉलेज से राजनीति तथा राजनयिक अध्ययन में स्नातक की डिग्री हासिल की। इसके बाद उन्होंने विशाखापट्टनम के लॉ कॉलेज से अंतरराष्ट्रीय कानून में डिग्री प्राप्त की।

राजनीति करियर

वेंकैया नायडू का राजनीति का करियर साल 1972 में शुरू हुआ जहां वह जय आंध्रा आंदोलन से एक नेता के रूप में मशहूर हुए। साल 1978 में वह सिर्फ 29 साल की उम्र में पहली बार विधायक बने और 1983 तक भाजपा के सबसे बड़े नेताओं में से उभर कर सामने आए। 1977 से 1980 के बीच जनता पार्टी के समय में वे यूथ विंग के प्रेसिडेंट भी रहे

वेंकैया नायडू साल 1988 से 1993 तक बीजेपी के आंध्र प्रदेश के अध्यक्ष भी रहे। और वेंकैया नायडू साल 2000 तक बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव रहे। इसके साथ-साथ वह 1996 में पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता भी रहे। एक बड़े नेता के रूप में जानने लगे वेंकैया नायडू को सन 1998 में पहली बार कर्नाटक के राज्यसभा के लिए चुना गया।

वह 1999 में अटल बिहारी वाजपेई की सरकार में ग्रामीण विकास मंत्री के रूप में कार्यरत रहे। साल 2002 में पहली बार बीजेपी का राष्ट्रीय अध्यक्ष चुना गया। उन्हें साल 2006 में BJP पार्लिमेंट बोर्ड का सदस्य तथा केंद्र चुनाव समिति का सदस्य बनाया गया। लेकिन वेंकैया नायडू को अपनी असली पहचान तब मिली जब उन्हें 5 अगस्त 2017 को भारत के उपराष्ट्रपति के लिए निर्वाचित हुए और 11 अगस्त 2017 को भारत के 13वें उपराष्ट्रपति के पद पर विराजमान हुए।

जानिए बेहतरीन राजनेता अटल बिहारी वाजपेयी के बारे में।

राजनीति करियर हाइलाइट्स

  • 1972 में जय आंध्रा आंदोलन।
  • 1974 में जयप्रकाश नारायण की छात्र संघर्ष समिति में आंध्र प्रदेश के संजोयक।
  • 1975 में इमरजेंसी जेल में।
  • 1978 में पहली बार विधायक।
  • 1977 से 1980 में जनता पार्टी के यूथ विंग के प्रेसिडेंट।
  • 1980 से 1985 तक आंध्र प्रदेश विधानसभा में बीजेपी के नेता प्रतिपक्ष।
  • 1988 से 1980 के बीच आंध्र प्रदेश बीजेपी के अध्यक्ष।
  • 1993 से 2000 तक बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव।
  • 1996 से लेकर 2000 तक राष्ट्रीय प्रवक्ता।
  • 1998 में पहली बार कर्नाटक के राज्यसभा चुने गए.
  • 1999 में ग्रामीण विकास मंत्री।
  • साल 2002 में पहली बार भी बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चुने गए।
  • 2014 से 2017 तक शहरी विकास गृह निर्माण और गरीबी निवारण के केंद्र मंत्री
  • 2016 से 2017 तक सूचना एवं प्रसारण मंत्री।
  • 5 अगस्त 2017 को भारत के उपराष्ट्रपति के लिए निर्वाचित हुए।
  • 11 अगस्त 2017 को भारत के 13वें राष्ट्रपति बने।

FAQ

वेंकैया नायडू कौन है?

नायडू वर्तमान में भारत के उपराष्ट्रपति हैं।

वेंकैया नायडू का जन्म कब और कहां हुआ?

उनका जन्म 1 जुलाई 1949 को आंध्र प्रदेश में हुआ था।

भारत के उपराष्ट्रपति कौन है?

श्री वेंकैया नायडू।

नायडू कौन सी जाति में आते हैं?

कम्मा

भारत के प्रथम उपराष्ट्रपति कौन हैं?

डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन।

भारत के उपराष्ट्रपति का कार्यकाल कितना होता है?

उपराष्ट्रपति का कार्यकाल 5 वर्ष का होता है।

see also – इन्हे भी पढ़े

cM of UP yogi adityanath biography in hindi

नोट– यह संपूर्ण बायोग्राफी का क्रेडिट हम वेंकैया नायडू को देते हैं, क्योंकि ये पूरी जीवनी उन्हीं के जीवन पर आधारित है और उन्हीं के जीवन से ली गई है। उम्मीद करते हैं यह आर्टिकल आपको पसंद आया होगा। हमें कमेंट करके बताइयेगा कि आपको यह आर्टिकल कैसा लगा?

Leave a Reply