MS Dhoni Biography Hindi | The Best Captain In India

You are currently viewing MS Dhoni Biography Hindi | The Best Captain In India

the best captain in the world

MS Dhoni Biography in Hindi– आज आप जानेंगे दुनिया के सबसे प्रसिद्ध तथा सबसे सफल कप्तानों में से एक एम.एस यानि महेंद्र सिंह धोनी के बारे में। महेंद्र सिंह धोनी एक ऐसे भारतीय खिलाडी है, जिन्होंने भारतीते क्रिकेट टीम को नै उचाइओ तक पहुंचाया है, इसलिए आज हम इस लेख में महेंद्र सिंह धोनी जीवन परिचय और क्रिकेट करियर तथा साथ ही इनके द्वारा बनाये गए रिकार्ड्स पर भी एक नजर डालेंगे।

महेंद्र सिंह धोनी भारतीय क्रिकेट के पूर्व कप्तान है, जिनका जन्म 7 जुलाई 1981 को रांची में हुआ था। महेंद्र सिंह धोनी भारतीय क्रिकेट टीम में बल्लेबाजी तथा विकेट कीपर की अहम भूमिका निभाते है। धोनी को भारतीय टीम एक सफल टीम बनाने के लिए पद्म भूषण, पद्म श्री और साथ ही भारत का सबसे बड़ा खेल रत्न राजीव गाँधी पुरस्कार से सम्मानित किये गए क्रिकेट खिलाडी है। महेंद्र सिंह धोनी आज एक सफल कप्तान है, जिसकी वजह से इन्हे आज पूरी दुनिया captain Cool के नाम से जानती है।

name/नाममहेंद्र सिंह धोनी
dOB/जन्म तिथि7 जुलाई 1981
birthplace/जन्मस्थलरांची ( झारखंड )
profession/व्यवसायभारतीय क्रिकेट खिलाडी
parents/माता-पितादेवकी/मानसिंह धोनी
wife/पत्नीसाक्षी धोनी
daughter/बेटीजीवा धोनी
net-worth/कुल मूल्य767 करोड़
IPL team/आईपीएल टीमचेन्नई सुपर किंग ( CSK )
MS Dhoni Biography In Hindi

भारतीय क्रिकेट टीम को सफल बनाने वाले महेंद्र सिंह धोनी आज पुरे विश्व में फिनिशर के रूप में जानते है, जिससे इनकी प्रशंसा भारत में नहीं विश्व लगभग सभी देशो में की जाती है। 2007 और 2011 का वर्ल्ड कप जिताने वाले कैप्टन कूल यानि महेंद्र सिंह धोनी का वर्ल्ड कप में महत्वपूर्ण योगदान रहा है, जिसकी बदौलत आज महेंद्र सिंह धोनी के प्रशंसक ( Fans ) इनके काफी चहिते है।

MS Dhoni Life Story in Hindi – MS धोनी लाइफ स्टोरी हिंदी में

महेंद्र सिंह धोनी का जन्म 7 जुलाई 1981 को झारखंड की राजधानी रांची में हुआ. इनके पिता का नाम मानसिंह धोनी है, जोकि अल्मोड़ा जिले के तलाशलाम गांव में रहते थे। वही उनकी मां का नाम देवकी है, जो की अपने परिवार के साथ में हाथ बटाती थी। इसके अलावा धोनी के परिवार में एक बहन और एक भाई है, जिनका नाम जयंती तथा नरेंद्र सिंह धोनी है।

अगर बात करे इनकी शुरूआती पढाई के बारे में, तो महेंद्र सिंह धोनी ने अपनी शुरुआती पढाई DAV जवाहर विद्या मंदिर से प्राप्त की, जिसके चलते धोनी होनहार स्टूडेंट में गिने जाते थे।

आज भारत के कैप्टन कूल कह जाने वाले महेंद्र सिंह धोनी को शायद बोहोत कम जानते होंगे की महेंद्र सिंह धोनी को बचपन में क्रिकेट की बजाये फुटबॉल, बैटमिंटन जैसे खेलो में रूचि थी. फुटबॉल जैसे खेलो में रूचि होने के कारण धोनी फुटबाल खेलने में महारत हासिल कर ली थी, और देखते देखते डिस्ट्रिक और क्लब लेवल पर फुटबॉल खेलना शुरू कर दिया था, लेकिन अपने फुटबॉल कॉच की सलाह पर उन्होंने क्रिकेट में भी अपना हाथ आजमाया जिससे धोनी की रूचि क्रिकेट की और मूड गई।

खड़कपुर रेलवे में टी.टी की नौकरी-

महेंद्र सिंह धोनी को क्रिकेट के प्रति दिलचस्पी इतनी थी, की दसवीं कक्षा के बाद धोनी ने क्रिकेट पर खूब ध्यान दिया, लेकिन इसी वक्त महेंद्र सिंह धोनी को खड़कपुर रेलवे के रूप में टी.टी की जॉब लगी और करीब दो साल तक टी.टी की नौकरी करते रहे।

cricket career – क्रिकेट करियर

1999/00–2003/04बिहार
2004/2005झारखंड
2008/2015चेन्नई सुपर किंग्स
2016/2017राइजिंग पुणे सुपरजायंट
2018/वर्तमानचेन्नई सुपर किंग्स

टी.टी की जॉब के वक्त महेंद्र सिंह धोनी सिर्फ क्रिकेट के बारे में सोचते थे। क्रिकेट की प्रति उनकी लगन इतनी ज्यादा थी की टी.टी की मन न लगने से धोनी का पूरा ध्यान क्रिकेट की और मूड गया. और अपना करियर क्रिकेट में बनाने में लगा दिया।

साथ ही एक साल Ranji Trophy का हिस्सा बने रहने के कारण BCCI टीम के मैम्बर प्रकाश पदार की नज़र महेंद्र सिंह धोनी पर पड़ी, जिसकी वजह से धोनी को बड़े स्तर पर क्रिकेट खेलने के लिए शामिल किया गया। और अपने शानदार प्रदर्शन के बदोलत महेंद्र सिंह धोनी को India Team A के लिए चुन लिया गया, जहाँ उन्होंने शानदार परफॉर्मन्स करते हुए खूब रन बटोरे और उस समय के भारतीय कप्तान सौरव गांगुली को अपने प्रदर्शन से प्रभावित किया और अपनी प्रतिभा को और आगे तक ले गए।

ms dhoni biography in Hindi language

वनडे क्रिकेट की शुरुआत23 दिसम्बर 2004 ( बांग्लादेश )
टेस्ट क्रिकेट की शुरुआत2 दिसम्बर 2005 ( श्रीलंकाई)
टी20 क्रिकेट की शुरुआत1 दिसम्बर 2006 ( साऊथ अफ्रीका)

धोनी के प्रदर्शन को देखते हुए India Team A के कॉच सदीप पाटिल ने भारतीय क्रिकेट टीम को मजबूत बनाने के लिए धोनी को भारतीय टीम में शामिल करने को कहा जिसके चलते धोनी को 23 दिसम्बर 2004 को बांग्लादेश क्रिकेट दौरे के लिए भेजा गया जहाँ उनका शानदार प्रदर्शन बेहद ख़राब प्रदर्शन में बदल गया. लेकिन चयनकर्ताओं ने धोनी को एक और मौका दिया और अब की बार उनके सामने पकिस्तान की टीम थी, महेंद्र सिंह धोनी ने उस सीरीज के पांचवे मैच में वो कारनामा कर दिखाया जो आज से पहले किसी ने भी नहीं सोचा था. धोनी ने 148 रन की शानदार पारी खेल अपने आप में एक कीर्तिमान स्थापित किया।

MS Dhoni Biography Hindi –

अपने इसी शानदार प्रदर्शन के चलते धोनी को टेस्ट मैच मे खेलने के लिए टीम का हिस्सा बनाया गया, जिसके कारण महेंद्र सिंह धोनी ने अपने टेस्ट केयर जी शुरुआत 2 दिसम्बर 2005 को श्रीलंकाई टीम के खिलाफ की, जहाँ उन्होने अपना शानदार फॉर्म जारी रखा। देखते ही देखते धोनी को लोगों का प्यार मिलने लगा और धोनी का नाम हेर भारतीय क्रिकेट प्रशसक की ज़ुबा पर आने लगा।

भारतीय टीम में अपना योगदान देने के लिए महेंद्र सिंह धोनी ने अपने टी20 करियर की भी शुरुआत कर डाली, और इसी तरह महेंद्र सिंह धोनी ने अपने टी20 करियर की शुरुआत 1 दिसम्बर 2006 को साऊथ अफ्रीका के खिआफ़ की, जहाँ उन्होने अपनी बल्लेबाजी के साथ साथ विकेट कीपर की भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई, और समय के साथ धोनी एक सफल कप्तान के रूप में उभरने लगे।

आज धोनी अपने सटीक निर्णय और सफल कप्तान के लिए दुनिया भर में प्रसिद्ध है. इसलिए इनका नाम सफल कप्तान में गिना जाता है।

Records made by Mahendra Singh Dhoni

  • सबसे तेज स्टम्प करने वाले पहले तथा एकमात्र खिलाड़ी.
  • छक्के के साथ वर्ल्ड कप जिताने वाले एकमात्र भारतीय खिलाडी.
  • बतौर कप्तान सबसे ज्यादा मैच खेलने वाले भारतीय खिलाडी.
  • बतौर कप्तान टी20 क्रिकेट में सबसे ज्यादा टॉस जितने का रिकॉर्ड.
  • कप्तान के रूप में अन्तराष्ट्रीय क्रिकेट में सबसे ज्यादा छक्के लगाने वाले एकमात्र खिलाडी.
  • सबसे ज्यादा टी20 मैच जितने का रिकॉर्ड.
  • सबसे ज्यादा स्टम्प करने का रिकॉर्ड. ( 178 से अधिक )

SEE ALSO – इन्हे भी पढ़े

Note – We Give Credit For This Post To MS dhoni. Because This Entire Biography Is Based On The Life Of MS dhoni. We Have Just Made A Small Effort To Shine A Light On His Life.

Leave a Reply