Bulb Ka Avishkar Kisne Kiya | जानिए कैसे हुआ था, बल्ब का आविष्कार

You are currently viewing Bulb Ka Avishkar Kisne Kiya | जानिए कैसे हुआ था, बल्ब का आविष्कार

बल्ब का आविष्कार किसने किया – बल्ब का इतिहास, बल्ब क्या है, बल्ब का आविष्कार क्यों हुआ, बल्ब किसने बनाया था, और बहुत कुछ ( Bulb Ka Avishkar Kisne Kiya – Bulb ka itihas, bulb kya hai, bulb ka aviskar kyu hua, bulb kisne banaya tha, and more )

अगर आप जानना चाहते हैं, कि बल्ब का आविष्कार किसने और कब किया तो आप बिल्कुल सही जगह आए हैं, क्योंकि आज के इस आर्टिकल में हम आपको बल्ब से जुड़ी सभी जानकारी देने वाले हैं। आपको इस आर्टिकल में बल्ब का आविष्कार किसने, कब और बल्ब से जुड़े कुछ रोचक जानकारी जानने को मिलेगी तो इसलिए आप हमारे साथ अंत तक बने रहिए।

बल्ब जोकि रोशनी देने वाला एक उपकरण है, आज से कई साल पहले बल्ब की जगह मोमबत्ती या लालटेन का उपयोग होता था, तथा उसमें रखरखाव ना होने के चलते आग लगने का डर बना रहता था। लेकिन अब ऐसा नहीं है क्योंकि पूरी दुनिया में बल्ब को सर्वश्रेष्ठ अविष्कार में से एक माना जाता है। आज बल्ब की वजह से करोड़ों लोग राहत की जिंदगी जी रहे है। जब से थॉमस अल्वा एडिसन ने बल्ब का आविष्कार किया है, तब से मानो दुनिया में एक नए युग की शुरुआत हुई है।

बल्ब क्या है ?

तपदीप्त लैंप जिसे आम भाषा में बल्ब भी कहा जाता है। यह प्रकाश उत्पन्न करने वाला एक उपकरण है, जो कि गर्म होने पर प्रकाश करता है। बल्ब में एक पतला फिलामेंट यानी तार होता है, जिसके चलते जब धारा बहती है तब वह गरम होकर आपके सामने रोशनी प्रदान करता है।

बल्ब का आविष्कार किसने किया ?

जानकारी के लिए बता दें कि बल्ब का आविष्कार दुनिया के महान वैज्ञानिक थॉमस अल्वा एडिसन ने किया था, जो कि एक जाने माने वैज्ञानिक थे। इनका जन्म 11 फरवरी 1847 को संयुक्त राज्य अमेरिका में हुआ। और 18 अक्टूबर 1931 को 84 साल की उम्र में उनका देहांत हो गया।

बल्ब का आविष्कार कब हुआ?

PointsInformation
Invention Of Bulb / बल्ब का आविष्कार21 अक्टूबर 1879
Inventor / आविष्कारकथॉमस अल्वा एडिसन
Bulb Ka Avishkar Kisne Kiya

बल्ब का आविष्कार कैसे हुआ था?

आज के समय में बिजली से चलने यह बल्ब को बनाने का ख्याल सबसे पहले महान वैज्ञानिको में से एक Humphrey Davy को आया। यह बात कई साल पुरानी है जब उन्होंने बताया कि जब विद्युत को तारों के माध्यम से प्रवाह किया जाए तो वह गर्म होकर प्रकाश उत्पन्न करता है। humphrey Davy ने भी थॉमस अल्वा एडिसन के बल्ब का आविष्कार होने से पहले कुछ रोशनी पैदा करने वाले उपकरण तैयार किए लेकिन उनके द्वारा बनाए गए उपकरण कुछ घंटों तक ही जल पाते थे।

लेकिन इसके बाद थॉमस अल्वा एडिसन ने बल्ब का आविष्कार किया, और उन्होंने इस आविष्कार को सफल बनाने के लिए कई बार कोशिश की और आखिरकार सन 1879 को थॉमस अल्वा एडिसन ने carbon filament light bulb को तैयार कर पूरी दुनिया के सामने पेश किया। थॉमस द्वारा बनाया गया बल्ब 40 घंटे तक जलते रहा और एक सफल बल्ब अविष्कार घोषित किया। सही मायने में बल्ब के आविष्कारक थॉमस एडिसन को ही माना जाता है। उन्होंने बल्ब का आविष्कार के साथ साथ बल्ब के डिजाइन का भी पूरा ख्याल रखा जिसके चलते बल्ब बनकर तैयार हुआ।

जानिए बल का आविष्कार करने वाले थॉमस अल्वा एडिसन की संपूर्ण जीवनी।

बल्ब का इतिहास

बल्ब का आविष्कार करने वाले थॉमस एडिसन ने कई सालों तक बल्ब को बनाने के लिए कड़ी मेहनत की और हजारों कोशिश करने के बाद भी वह नाकाम रहे। लेकिन इस नाकाम से वह निराश नहीं हुए क्योंकि उन्हें पता था कि सफलता उन्हीं मिलती है जो कोशिश करते रहते हैं। और बाद में आखिरकार दुनिया को बिजली के द्वारा चलने वाला बल्ब का आविष्कार मिला और दुनिया को एक ऐसा तोहफा दिया जिससे लोग आज अपनी जिंदगी आसानी से बिता रहे हैं।

एडिशन ने बल्ब को बनाने के लिए कई बार कोशिश की और नाकाम भी रहे, लेकिन वह अपनी इस आविष्कार को दुनिया के सामने पेश करना चाहते थे, इसलिए थॉमस एडिसन ने बल्ब का फिलामेंट बनाने के लिए दो हजार अलग-अलग सामग्री को आजमाया। वह अपने बल्ब का आविष्कार करने के लिए कई प्रयास कर रहे थे और उन्होंने अपने इस आविष्कार को सफल बनाने के लिए हजारों बार फेल हुए लेकिन इसी बीच एक पत्रकार ने थॉमस अल्वा एडिशन से एक सवाल किया उसने पूछा कि आपको हजारों बार फेल होने के बाद की सफलता पर आपको कैसा लग रहा है? इस सवाल पर एडिशन ने बहुत ही अच्छा जवाब देते हुए कहा कि मैं हजार बार फेल नहीं हुआ हूं बल्कि मैंने सफलतापूर्वक हजार ऐसे तरीके ढूंढ लिए हैं जो काम नहीं आएंगे।

और आखिरकार थॉमस एडिसन ने अपने इस आविष्कार में वह सफलता पा ली थी, जिसे दुनिया नाकाम समझ रही थी। इस असाधारण आविष्कार को सफल बनाया और साल 1879 वह साल था जब दुनिया ने बल्ब का आविष्कार देखा।

some FAQ ( कुछ अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न )

बल्ब का आविष्कार क्यों हुआ?

रोशनी देने के लिए।

बल्ब का आविष्कार किसने किया?

थॉमस अल्वा एडिसन।

बल्ब का आविष्कार कब हुआ?

21 अक्टूबर 1879 को।

विश्व का पहला बल्ब किसने बनाया?

थॉमस अल्वा एडिसन ने।

पहला बल्ब बनाने के लिए थॉमस अल्वा एडिसन को कितनी लागत आई?

करीब 40 हज़ार डॉलर

See also – इन्हे भी पढ़े

जानिए भारतीय अभिनेत्री प्रियंका चोपडा के बारे में।

जानिए भारत का सबसे अमीर व्यक्ति कौन है ?

नोट- यह संपूर्ण जानकारी बल्ब का अविष्कार के बारे में बताई गई है। उम्मीद करते हैं यह आर्टिकल आपको पसंद आया होगा। हमें कमेंट करके बताइयेगा कि आपको यह आर्टिकल कैसा लगा?

Leave a Reply