Azim Premji Biography in Hindi | अजीम प्रेमजी की जीवनी

You are currently viewing Azim Premji Biography in Hindi | अजीम प्रेमजी की जीवनी
Azim Premji JiwanParichay

अज़ीम प्रेमजी कौन है ? (Who is Azim Premji )

आज हम आपको भारत के सबसे धनी व्यक्ति होने के साथ साथ लाखो लोगो को रोजगार देने वाले Azim Premji के बारे में विस्तार से बताएंगे। कैसे अपने पिता की तेल, साबुन की एक छोटी कंपनी को आज भारत की सबसे बड़ी कम्पनियो में से एक बनाकर एक नया मुकाम हासिल किया है,, इसलिए जानते है,, Azim Premji Biography hindi में।

अज़ीम प्रेमजी एक भारतीय उद्योगपति, व्यवसायी और निवेशक है, जिनका जन्म 24 जुलाई 1945 को मुंबई में हुआ था। यह भारत की प्रसिद्ध आईटी कंपनी Wipro Limited company के फॉउंडर और मुख्य सदस्य है। एक साबुन और तेल बनाने वाली कंपनी को भारत की सबसे बड़ी कारोबार वाली कंपनी में से एक बनाने के कारण अज़ीम प्रेमजी को भारत का बिल गेट्स कहा जाता है।

name/नाम अज़ीम प्रेमजी
DOB/जन्म तिथि 24 जुलाई 1945 ( मुंबई )
profession/पेशाउद्योगपति, व्यवसायी, निवेशक
parents/माता-पिताहशम प्रेमजी/ माँ- ज्ञात नहीं
net-worth/नेट-वर्थ950 करोड़ अमेरिकी डॉलर (2021)
age/उम्र76 years ( 2021 )
nationality/राष्ट्रीयता भारतीय

Biography of azim premji in hindi –

अजीम प्रेमजी का जन्म 24 जुलाई 1945 को मुंबई शहर के शिया मुश्लिम परिवार में हुआ था। उनके पिता मोहम्मद हशम प्रेमजी एक व्यापारी थे। जिनकी western indian vegetable products नाम की एक छोटी कंपनी थी, जिसमे घर के खाने से सम्बंधित तेल, साबुन और अन्य उत्पादों का व्यापार था।

अज़ीम का जन्म भारत की आजादी से पहले हुआ था, जिसके चलते 1947 में भारत और पाकिस्तान के बंटवारे के बाद पकिस्तान के प्रमुख राजनीतिज्ञ मोहम्मद अली जिन्ना ने अज़ीम प्रेमजी को पकिस्तान में आने का न्योता दिया, लेकिन अज़ीम और उनके परिवार ने भारत में रुकने और यही पर अपना व्यापार चलाने का फैसला लिया।

अजीम ने अपनी स्कूली पढ़ाई भारत में पूरी की, और बाद में परिवार वालो ने अज़ीम प्रेमजी को इंजीनियरिंग की पढ़ाई के लिए अमेरिका के Stanford University में दाखिला लिया, चूँकि अज़ीम प्रेमजी इंजीनियरिंग की पढ़ाई के लिए अमेरिका में थे, इसलिए कुछ समय बाद दुर्भाग्य से अपने पिता की मृत्यु की खबर सुन अज़ीम जी तुरंत भारत वापस लौट आते है,,

पिता की मृत्यु के बाद अज़ीम प्रेमजी के ऊपर अपने पिता की साबुन और तेल बनाने की कंपनी को अपने उम्र ले लिया, तब से लेकर अब तक अज़ीम प्रेमजी ने अपने पिता की कंपनी को एक नई बुलंदियों पर पहुंचाया है।

Azim premji career In Hindi

अपने पिता की मृत्यु के बाद कंपनी को अजीम प्रेमजी ने संभाला, कंपनी में मुख्य उत्पाद ( product ) तेल का ही था लेकिन अज़ीम जी ने कंपनी का विकास करने के लाइट बल्ब, हेयर केयर, फैट्स आदि प्रोडक्ट को कंपनी में जोड़ा। साल 1979 में अज़ीम प्रेमजी ने कंपनी का नाम western indian vegetable products से विप्रो ( wipro ) में बदल दिया।

जब आईबीएम को देश से बाहर निकाल निकला गया तब प्रेमजी ने अपनी कंपनी का नाम बदलकर विप्रो कर दिया, और माइक्रोकंप्यूटर बनाना शुरू कर दिया ताकि हाई टेक्नोलॉजी प्रॉडक्ट्स के लिए इस फील्ड में एंट्री की जा सके। इस प्रोजेक्ट में, उन्होंने एक अमेरिकी कंपनी Sentinel कंप्यूटर कॉर्पोरेशन के साथ सहयोग किया। बहुत जल्द ही उन्होंने फास्ट मूविंग कंज्यूमर से टेक्नोलॉजी इंडस्ट्री में पूरी तरह से ट्रांसफर ( स्थानांतरित ) कर दिया ।

Azim premji foundation –

वर्ष 2001 में उन्होंने Azim Premji Foundation की स्थापना की. प्रेमजी ने करीब 8846 करोड़ रुपये के इक्विटी शेयर Azim Premji Foundation को ट्रांसफर किये. और कई गरीब एवं बेसहारा लोगों की मदद का कारण बने, यही नहीं अज़ीम प्रेमजी ने Azim Premji Foundation की ओर से शिक्षा का विकास के लिए करोड़ो रुपए की मदद करती है, प्रेमजी मानना है की शिक्षा देश का भविष्य है।

azim premji net-worth In Rupees

अगस्त 2021 के अनुसार अजीम प्रेमजी की नेट वर्थ करीब 950 करोड़ अमेरिकी डॉलर है, जानकारी के अनुसार अज़ीम प्रेमजी अपनी कमाई का 25% प्रतिशत लोगो के मदद के लिए दान करते है।

पुरस्कार और उपलब्धियां

  • 2000 में अजीम प्रेमजी को मणिपाल एकेडमी ऑफ़ हायर एजुकेशन द्वारा मानद डॉक्टरेट के रूप में सम्मानित किया।
  • अज़ीम प्रेमजी को 2011 में भारत सरकार द्वारा दूसरा सर्वोच्च नागरिक सम्मान पुरस्कार पद्म विभूषण से सम्मानित किया।

See Also – इन्हे भी पढ़े

Note – मैं आशा करता हु की आप S Azim premji के बारे में जान गए होंगे, और अगर आपको यह पोस्ट अच्छा लगा तो Comment बॉक्स में जरूर बताये और अगर आपको इस पोस्ट से रिलेटिड और जानकारी है तो प्लीज हमारे साथ साझा कीजिये।

Leave a Reply