Asharam Chaudhary Biography in Hindi | आशाराम चौधरी कौन है?

You are currently viewing Asharam Chaudhary Biography in Hindi | आशाराम चौधरी कौन है?

Asharam Chaudhary

Asharam Chaudhary Biography in Hindi – हमारे देश में बहुत से लोग ऐसे है जो कि गरीब परिवार होते है, या निर्धन होते है। इनके पास दो वक्त के रोटी भी नसीब नहीं होती। यह बात इसलिए हो रही है क्योंकि कैसे एक स्टूडेंट गरीब परिवार से निकलकर और अपनी मेहनत पर AIIMS के मेडिकल ( अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान ) इंस्टीट्यूट में दाखिला लिया। जिनका नाम Asharam Chaudhary है जिहोने आज में एक बड़ी कामयाबी हासिल की है .

आशाराम चौधरी मध्यप्रदेश के रहने वाले AIIMS ( अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान ) के एक मेडिकल स्टूडेंट है। जिहोने गरीबी में भी यह मुकाम हासिल किया है। आशाराम चौधरी बताते है की मेरे पिता ने पन्नी और बोतले बीनकर इस मुकाम तक पहुंचाने के लिए पूरा सहयोग किया है .

Asharam Chaudhary Biography in Hindi.

Asharam Chaudhary का जन्म एक गरीब परिवार में हुआ फिर भी मध्य प्रदेश के रहने वाले इस स्टूडेंट ने गरीबी का डटकर सामना करना सीखा है । घर में पैसों की तंगी होने कारण दो वक्त की रोटी भी नसीब नहीं होती थी . इनके पिताजी रंजीत सिंह चौधरी दूसरे के खेत में काम किया करते थे जिससे उनके परिवार का पालन पोषण होता था। इनके पिता ने सरकारी स्कूल में दाखिला कराया क्योंकि उनके बेटे को एक वक्त का खाना मिल सके और अपना पेट भर सकें

कुछ समय बाद आशाराम की रुचि पढ़ाई की और मूड गई, जिससे आशाराम को लैब में मेडिकल की बुक पढ़ना काफी पसंद आने लगी। परिवार की आर्थिक हालात देखकर उन्होंने डॉक्टर बनने का फैसला किया, ताकि परिवार की आर्थिक हालत थोड़ी बेहतर होता।

कई प्रकार की परिस्थितियां का सामना कर और बिना किसी कोचिंग के जरिए कई सारे एग्जाम दिए. तथा इसमें से एक AIIMS मेडिकल का एग्जाम दिया। और अपनी मेहनत और लगन के कारण बिना किसी कोचिंग के जरिए सिलेक्शन हुआ घर में परिवार सहित बहुत खुश थे क्योंकि उनका बेटा इतने बड़े इंस्टीट्यूट में शामिल हो गया था

Financial scarcity –आर्थिक तंगी

जैसा कि ऊपर बताया गया है कि, आशाराम चौधरी गरीब परिवार से थे इनके पिता का खुद का खेत ना होने के कारण दूसरे के खेत में काम करने जाया करते थे और कभी कभी आशाराम भी अपने पिताजी की खेत में सहायता करते थे जिससे खेत का कार्य जल्दी हो जाता था आसाराम चौधरी एक गरीब परिवार से थे जिसके कारण एक वक्त की रोटी मिलना उनके परिवार मैं मुश्किल सा हो गया था. इसीलिए उनके पिता ने अपने बेटो का दाखिला एक सरकारी स्कूल में कराया जहां वह पढ़ने के साथ साथ एक टाइम का भोजन खाया करते थे।

SEE ALSO – इन्हे भी पढ़े

satish anand biography in hindi

IES ऑफिसर मधुकांत गोयल जीवन परिचय – 

Note – We Give The Credit Of This Post To Asharam Chaudhary Because This Entire Biography Is Based On The Life OfAsharam Chaudhary. We Have Just Made A Small Effort To Shine A Light On His Life.

Leave a Reply