Anup Kumar Biography in Hindi | अनूप कुमार का जीवन परिचय

You are currently viewing Anup Kumar Biography in Hindi | अनूप कुमार का जीवन परिचय
Captain cool

अनूप कुमार का जीवन परिचय – आयु, विकी, जन्म तिथि, अभिलेख, माता-पिता, कबड्डी टीम, निवल मूल्य, ( Anup Kumar biography in Hindi – age, wiki, DOB, records, parents, kabaddi team, net-worth ) ( captain cool biography in hindi )

अनूप कुमार कौन है? ( Who is Anup Kumar )

अनूप कुमार कबड्डी के इतिहास का सबसे लोकप्रिय चेहरा, जिसने नए युवाओं को कबड्डी खेलने के लिए प्रेरित किया। अनूप कुमार कोई ऐसे छोटे-मोटे कबड्डी खिलाड़ी नहीं है, तथा वह कबड्डी की जर्नी के सबसे सफल रेडर माने जाते हैं। यही कारण है कि उन्हें एक लेजंड के तौर पर देखा जाता है। अनूप कुमार ने कबड्डी को एक पहचान दी है, तथा 2016 में भारतीय कबड्डी टीम के कप्तान के तौर पर भारत को गोल्ड मेडल जिताया था। तो चलिए जानते हैं कबड्डी के महारथी अनुप कुमार के जीवन के बारे में।

अनूप कुमार जिन्हे बोनस का बादशाह भी कहा जाता है, यह एक भारतीय पेशेवर कबड्डी खिलाड़ी हैं, जिनका जन्म 20 नवंबर 1984 को हरियाणा में हुआ था। यह 2016 के भारतीय कबड्डी टीम के वर्ल्ड कप में कप्तान रहे, जिन्होंने भारत को स्वर्ण पदक दिलाया था। यह प्रो कबड्डी लीग के सबसे सफल रेडर में से है, उन्होंने अपने 5 साल यू मुंबा और बाद में जयपुर पिंक पैंथर्स की टीम में चले गए। भारतीय कबड्डी टीम में अहम भूमिका निभाने के लिए अनूप कुमार को अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।

biography of anup kumar in hindi – age, wiki, DOB and more..

question ( प्रश्न )answer ( उत्तर )
name/नाम अनूप कुमार
nickname/उपनामकैप्टन कूल
DOB/जन्म तिथि 20 नवंबर 1984 ( हरियाणा )
age/उम्र38 साल ( 2021 )
profession/पेशा भारतीय पेशेवर कबड्डी
parents/माता-पितारणसिंह यादव/ बल्लो देवी
kabaddi team पुनेरी पलटन
net-worth10-15 करोड़ ( 2021 )
awards/पुरस्कार अर्जुन पुरस्कार
jorsey number3 ( three )
Retired /सेवानिवृत्त19 दिसंबर 2018
nationality/राष्ट्रीयता भारतीय
FAQ table

anup kumar ( kabaddi ) biography in hindi

बोनस के बादशाह कहे जाने वाले अनूप कुमार का जन्म 20 नवंबर 1984 को हरियाणा के गुड़गांव में स्थित पलरा में हुआ था। इनके पिता का नाम रणसिंह यादव तथा मां का नाम बल्लो देवी है। अनूप कुमार सन 2005 में एक कॉन्स्टेबल के रूप में सीआरपीएफ की सेना में शामिल हुए थे। उन्हें अपने स्कूल के दिनों में कबड्डी का काफी शौक था, जिस कारण व कबड्डी को पार्ट टाइम के रूप में खेलना शुरू किया।

anup kumar pkl career ( अनूप कुमार का पीकेएल करियर )

अनूप कुमार ने अपने प्रो कबड्डी की शुरुआत तब की जब उन्हें कबड्डी टीम यू मुंबा में शामिल होना पड़ा, तथा वह टीम का हिस्सा तो थे ही साथ ही उस टीम के कप्तान भी थे।अनूप कुमार ने अपने पहले सीजन में सबसे ज्यादा पॉइंट्स प्राप्त कर उसी सीजन के मोस्ट वैल्युएबल प्लेयर भी रहे।

2005 में भी अनूप कुमार यू मुंबा की टीम की ओर से खेलते हुए नजर आए, साथ ही 71 पॉइंट्स के साथ सीजन का अंत किया। उन्होंने अपनी टीम को फाइनल में पहुंचाकर पहली बार pro kabaddi league की टॉफी जिताई। साथ ही 2016 में भी अनूप कुमार ने यू मुंबा की टीम का नेतृत्व किया, और अपनी टीम को फाइनल में पहुंचाया तो सही लेकिन यहां उन्हें पटना पाइरेट्स से हार झेलनी पड़ी।

यही नहीं सीजन 5 में उन्हें दोबारा यू मुंबा के टीम का हिस्सा बनाया गया, इस तरह अनुप कुमार लगातार 5 बार इस टीम का हिस्सा बनकर सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी में से एक बन गए। इस सीजन में उन्होंने 400 पॉइंट्स का आंकड़ा पूरा किया और पहले ऐसे खिलाड़ी बने।

international career ( अंतरराष्ट्रीय करियर )

अनूप कुमार ने अपने इंटरनेशनल करियर की शुरुआत 2010 में कि, जहां उन्होंने एशियाई खेलों में भारत को गोल्ड मेडल जिताया था, इसके बाद 2014 में भी अनूप कुमार ने एशियाई खेलों में भारत को गोल्ड मेडल जिताया था। यहां से अनूप कुमार भारत में काफी प्रसिद्ध हुए। इसके बाद 2016 में अनूप कुमार ने भारतीय कबड्डी टीम का नेतृत्व करते हुए दक्षिण एशियाई खेलों में गोल्ड मेडल अपने नाम किया। साथ ही 2016 में फिर दोबारा भारतीय कबड्डी टीम के कप्तान के तौर पर तीसरा कबड्डी वर्ल्ड कप जीतकर देश में नहीं पूरे विश्व में भारत का नाम ऊंचा किया।

awards ( पुरस्कार )

कबड्डी में भारत का नाम रोशन करने तथा भारतीय कबड्डी टीम में अहम भूमिका निभाने के लिए 2012 में अनूप कुमार को अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।

see also – इन्हे भी पढ़े

नोट – हम इस पूरी बायोग्राफी का श्रेय अनूप कुमार को देते हैं। क्योकि यह पूरी जीवनी अनूप कुमार के जीवन पर आधारित है, हमने बस उनके जीवन पर प्रकाश डालने का एक छोटा सा प्रयास किया है। आपको यह आर्टिकल कैसा लगा हमें कमेंट करके जरूर बताइयेगा और उम्मीद करते है आप इस आर्टिकल को अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करेंगे.

Leave a Reply