Anand Kumar Biography in Hindi | आनंद कुमार का जीवन परिचय

You are currently viewing Anand Kumar Biography in Hindi | आनंद कुमार का जीवन परिचय
Indian Mathematics Educator

Anand Kumar Mathematician Biography in Hindi

दोस्तों आपको इस पोस्ट में Anand Kumar जी की biography hindi में पड़ने को मिलेगी। जो की सुपर 30 फिल्म के रियल कहानी के रियल हीरो है, आज हम इन्ही के जीवन से आपको वकित कराएंगे।

आनंद कुमार भारत के प्रसिद्ध लेखक, शिक्षक और गणितज्ञ विद्वान है, जिनका जन्म 1 जनवरी 1973 पटना में हुआ था। यह भारत में प्रसिद्ध सुपर 30 के लिए जाने जाते है, जिन्होंने मुश्किल दौर में अपने 30 छात्रों को आईआईटी में सफलतापूर्वक प्रवेश कराया था। आनंद कुमार का उद्देश्य सिर्फ गरीब छात्रो को आईआईटी और जेईई में प्रवेश करवाना है, भारत को शिक्षा में विकास के लिए आनंद कुमार को 2010 में एस॰ रामानुजन पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।

बिंदु(Points)जानकारी (Information)
Name/नाम Anand Kumar ( आनंद कुमार )
popular/प्रसिद्धसुपर 30 मैन
DOB/जन्म तिथि 1 जनवरी 1973 ( पटना )
profession/पेशा शिक्षक, गणितज्ञ , लेखक
parents/माता-पिताजयंती देवी (मां) राजेंद्र प्रसाद (पिता)
wife/पत्नीरितु रश्मी
film/फिल्मsuper 30
nationality/राष्ट्रीयताभारतीय

Super 30 Anand Kumar Biography In Hindi

आनंद कुमार जन्म 1 जनवरी 1973 को बिहार की राजधानी पटना में हुआ था। गरीब परिवार से होने के कारण आनंद कुमार को हिंदी मीडियम स्कूल में पढ़ाया लिखाया गया, पढ़ने में अच्छे तथा गणित में रूचि होने के कारण आनंद कुमार ने काम उम्र ही बहुत ज्ञान प्राप्त कर लिया था। आनंद जी के पिताजी राजेंद्र प्रसाद डाक विभाग में करते थे, और उनकी माँ जयंती देवी एक हाउस वाइफ थी।

गरीब तथा निचला वर्ग होने के चलते इतने पैसे नहीं थे की, छोटे से घर में बिजली की जरूरत को पूरा कर सके। घर की परिस्थति ख़राब होने के कारण जीवन चुनौतियों तथा संघर्षो से भरा एक पहाड़ जितना था। इस समय के दौरान आनंद कुमार के पिता की साँस फूलने के चलते मृत्यु हो गई, लेकिन दुःखो का पहाड़ टूटने के बावजूद आनंद और उनके परिवार ने हार नहीं मानी।

कामियाबी किसे कहते जानिए ओलिंपिक में गोल्ड मैडल पाने वाले neeraj chopra का जीवन परिचय।

पापड़ बेचने तक का सफर –

परिवार का पालन पोषण करने लिए आनंद कुमार और उनके परिवार ने पापड़ बेचने का काम किया, जहा आनंद जी गली गली में जाकर साइकल पर पापड़ बेचा करते थे। परिवार वाले आनंद कुमार का भरपूर साथ देते थे, जिसके चलते आनंद कुमार ने गरीब बच्चो को मुफ्त शिक्षा देना का सोचा।

2002 में, आनंद कुमार और उनके भाई ने सुपर 30 की शुरुआत आर्थिक रूप से गगरिब और बेसहारा 30 होनहार छात्रों को चुनने की योजना के साथ की, जो आईआईटी कोचिंग का खर्च नहीं उठा सकते थे। आनंद कुमार का उदेश्य 30 छात्रों को IIT (आईआईटी ) और JEE परीक्षा में पास करने के लिए तैयार करना था। आनंद कुमार के जीवन से सफलता तब मिली जब उनके 30 के 30 छात्र IIT और JEE परीक्षा में कामियाबी मिली, यह कामियाबी आनंद कुमार बहुत बड़ी थी, क्योकि बिना बिजली के बिना 30 छात्रों को इस काबिल बनाया, की आज वह छात्र या तो एक इंजीनियर है या अमेरिका की स्पेस एजेंसी NASA में वैज्ञानिक के रूप में शामिल होना।

super 30 film biography in hindi

आनंद कुमार कहानी वाकई लोगों को प्रेरित तथा हार न मानने के सामान है, इसी को देखते हुए आनंद कुमार जी के जीवन पर super 30 नामक फिल्म बनाई गई है, जिसमे प्रसिद्ध अभिनेता ऋतिक रोशन ने आनंद कुमार का रोल बखूबी निभाया है, यह फिल्म 12 जुलाई 2019 को टीवी पर प्रदिर्शित की गई थी, और हेर लोगों को इस फिल्म से बहुत कुछ सिखने को मिला है।

awards – पुरस्कार –

  • 2010 में एस॰ रामानुजन पुरस्कार से सम्मानित।
  • नवम्बर 2010 मौलाना अबुल कलाम आज़ाद शिक्षा पुरस्कार से सम्मानित।

Some FAQ (कुछ अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न)

आनंद कुमार कौन है?

एक भारतीय शिक्षक, लेखक और सुपर 30 के संस्थापक हैं।

सुपर 30 की शुरुआत कब हुई?

सुपर 30 की शुरुआत आनंद कुमार ने वर्ष 2002 में की थी।

आनंद कुमार का जन्म कब और कहाँ हुआ?

1 जनवरी 1973 को बिहार के पटना शहर में हुआ था।

आनंद कुमार के माता पिता का नाम क्या है?

आनंद कुमार के पिता का नाम राजेंद्र प्रसाद तथा माँ का नाम जयंती देवी हैं।

सुपर 30 के संस्थापक आनंद कुमार को कौन से पुरस्कार से सम्मानित किया गया है?

सुपर 30 के संस्थापक आनंद कुमार को दो में रामानुजन पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।

See Also – इन्हे भी पढ़े

Note – मैं आशा करता हूँ कि आपको anand kumar जी की Biography Hindi में पड़ने में अच्छी लगी होगी। यह सपूर्ण जीवनी anand kumar जी के जीवन पर ही रिसर्च द्वारा लिखी गयी है. आपको केसा लगा इनके बारे में पढ़कर हमें Comment Box में जरूर बताये

Leave a Reply